Tuesday, April 28, 2015

वायरल की उलझनें

आजकल वायरल का मौसम है. इस वाक्य में ‘आजकल’  और ‘वायरल’  दोनों ही ध्यान देने योग्य हैं. आजकल को आप काफी लम्बा खींच लीजिए. और वायरल की परिभाषा का भी वह कर लीजिए जिसे भाषा शास्त्री अर्थ  विस्तार कहते हैं. अर्थ विस्तार यानि किसी शब्द का अर्थ पहले सीमित हो लेकिन धीरे-धीरे विस्तृत होकर काफी फैल जाए. एक अच्छा उदाहरण है स्याही. जैसा कि शब्द से ही  स्पष्ट है, जो स्याह हो वही स्याही. और आपको याद होगा कि पुराने  ज़माने में लिखाई के लिए काली स्याही का ही इस्तेमाल होता था. लेकिन इस शब्द का अर्थ विस्तार हुआ और लिखने के लिए काम आने वाला सारा लिक्विड, उसका रंग भले ही नीला-काला-पीला-हरा-लाल-बैंगनी  कोई भी  हो, स्याही नाम से ही जाना जाने लगा. और ऐसा ही मज़ेदार मामला वायरल का भी है. कुछ समय पहले तक वायरल का एक ही अर्थ, जिसका सम्बन्ध मौसमी बुखार से हुआ करता था,  हमें मालूम था. लेकिन इधर इस वायरल का प्रयोग बुखार के सन्दर्भ  में कम वीडियो के सन्दर्भ में अधिक होने लगा है. आए दिन कोई न कोई वीडियो वायरल हो जाता है. कभी-कभी ऑडियो भी हो जाता है. कार्टूंस भी हो जाते हैं! यानि कुछ भी वायरल हो सकता है.

अब देखिये ना, बहुत पुरानी बात नहीं है जब हॉलीवुड की एक एक्ट्रेस डकोटा जॉनसन  का एक वीडियो वायरल हुआ था. अंग्रेज़ी के एक कुख्यात-विख्यात उपन्यास ‘फिफ्टी शेड्स ऑफ ग्रे’ पर बनी और सैम टेलर जॉनसन द्वारा निर्देशित इसी नाम की फिल्म में एबे टेसफाय के गाये गाने ‘अर्नण्ड इट’ में इस बाला ने एक रस्सी के जाल में लटक कर हमारे अपने देश की पारो से भी आगे बढ़कर जो अदाएं और जलवे दिखाये उन्होंने इस वीडियो को वायरल होने में बड़ी मदद की. वैसे तो जिन्होंने यह उपन्यास पढ़ रखा है वे सहज ही कल्पना कर सकते हैं कि डकोटा जॉनसन ने इस गाने में कैसा  कमाल दिखाया होगा, फिर भी अज्ञानियों के लिए  इतना संकेत काफी होगा कि सेमी न्यूड नर्तकों के बीच ‘सेमी’ के बिना ही उन्होंने अपना देह-दर्शन कराया है.

और बात जब वायरल की है तो क्या परदेश और क्या देश! इधर  अपने देश में भी एक एक्ट्रेस की कुछ तस्वीरों का वीडियो वायरल हो गया है. इस ताज़ा वीडियो के वायरल होने की बात करूं उससे पहले यह भी याद दिलाता चलूं कि हमारे अभिनेता-अभिनेत्रियों और वायरल का संग साथ कोई आज की बात नहीं है. करीना कपूर-शाहिद कपूर और अस्मिता पटेल-रिया सेन के लिपलॉक की तस्वीरों और वसुन्धरा कश्यप और उनके बॉयफ्रैण्ड की अंतरंग तस्वीरों तथा एक फिल्म के सेट पर ली गई श्रुति हसन की तस्वीर  के वायरल होने की  यादें आपके जेह्न में अभी भी सुरक्षित पड़ी होंगी.  अब इसी कड़ी में एक और एक्ट्रेस की तस्वीरें जुड़ गई हैं.

बॉलीवुड की फिल्म ‘शोर इन द सिटी’ में तुषार कपूर के साथ और सुपरहिट मराठी फिल्म ‘लय भारी’ में रितेश देशमुख के साथ दिखाई दीं  राधिका आप्टे की कुछ निर्वसन छवियां हाल ही में वॉट्सएप और सोशल मीडिया पर वायरल हुई हैं. ये राधिका आप्टे वही हैं जिन्होंने ‘वाह लाइफ हो तो ऐसी’ फिल्म में शाहिद कपूर के साथ डेब्यू किया था. कहा  जा रहा है कि राधिका का जो क्लिप वायरल हुआ है वह असल में अनुराग कश्यप द्वारा निर्देशित एक लघु फिल्म का महज़ कुछ सेकण्ड का अंश है और इस अंश में वे सामने से निर्वसन नज़र आ रही हैं. अनुराग  कश्यप  को यह कहते हुए उद्धृत किया  गया है कि यह फिल्म एक सत्य घटना से प्रेरित है और उनके लिए इस दृश्य को शूट करना बेहद चुनौतीपूर्ण था. अनुराग ने कहा है कि उन्होंने केवल महिला क्रू के साथ ही इस दृश्य को निहायत ही नॉन सेक्सुअल तरीके से शूट किया था.

इस पूरे प्रकरण में दो-तीन बातें गौर तलब हैं. अनुराग कश्यप का यह कहना है कि उन्होंने यह फिल्म इण्टरनेशनल मार्केट के लिए बनाई है और जो क्लिप लीक होकर वायरल हुई है वह उनके शूट किये गए फुटेज को न्यू यॉर्क में डिलीवर कर देने के बाद हुई है. अनुराग ने सन्देह ज़ाहिर  किया है कि इस लीक में कदाचित किसी भारतीय का हाथ है. अपने इस सन्देह को वज़नदार बनाने के लिए उन्होंने तर्क यह दिया है कि पश्चिम में तो इससे काफी ज़्यादा सेक्सुअल सामग्री उपलब्ध  रहती है इसलिए भला वे लोग क्यों इस बात को कोई तूल देंगे. अब आइये दूसरी बात पर. जानकारों का कहना है कि जो तस्वीरें वायरल  हुई हैं वे निजी तौर पर ली गई सेल्फी की हैं. और तीसरी बात यह कि खुद राधिका आप्टे ने अपने ट्विटर हैंडल पर इन तस्वीरों के खुद की होने से इंकार किया है.

यानि इस वायरल में तो बड़ी उलझनें  है!

•••   
जयपुर से प्रकाशित लोकप्रिय अपराह्न दैनिक न्यूज़ टुडै में मेरे साप्ताहिक कॉलम कुछ इधर कुछ उधर के अंतर्गत मंगलवार, 28 अप्रेल, 2015 को वायरल की गुत्थी उलझाता सोशल वायरस शीर्षक से प्रकाशित आलेख का मूल पाठ.    
Post a Comment